About Ayurved (Ayurvedic Medicine) is a resource of Ayurveda information and Home Remedy Ayurveda Tips on how to get ride of all kind of body diseases.

बच्चो और बड़ो के कद लम्बा करने के घरेलु उपचार।

simple-ways-to-increase-height-in-kids
loading...

Increase height with home remedies and exercise.

आज के दौर में हर आदमी चाहता है की उसकी लम्बाई अच्छी हो। स्त्री हो या पुरुष, अच्छी हाइट दोनो की सुंदरता और व्यक्तित्व में निखार लाती है। क्योंकि लम्बाई जीन्स पर निर्भर करती है, इसलिए कुछ लोग सोचते हैं कि लम्बाई बढ़ा पाना मुमकिन नहीं होता। लेकिन आपको यह जानकर खुशी होगी कि कुछ ऐसे प्रकृतिक तरीके हैं जिनको अपनाकर आप अपनी लम्बाई बढ़ा सकते हैं। जिन लोगों की हाइट कम होती है वे लोग अपने पर्सनालिटी में कुछ कमी सी महसूस करते हैं। ज्यादातर लोग यही सोचते हैं कि हम लोगों की लंबाई केवल 18 साल तक ही बढ़ सकती है पर ऐसा भी नहीं है कि 18 साल के बाद लम्बाई बिल्कुल नहीं बढ़ाई जा सकती हैं नियमित रूप से व्यायाम, पौष्टिक आहार के सेवन और कुछ नियमों का पालन करके हम अपनी लम्बाई को अवश्य ही कुछ और इंच तक बढा सकते हैं।

जिन लोगो की लम्बाई नहीं बढ़ रही या जिनकी उम्र 18 साल से बड़ी हैं वह भी आपनी लंबाई बढ़ा सकते हैं, जनिए ये आसान उपाय

हम हमेशा सोचते हैं कि हमारी लंबाई केवल 18 साल तक ही बढ़ सकती है। हांलाकि इस बात में थोड़ी सी सच्‍चाई है पर ऐसा भी नहीं है क्‍योंकि जो टेंडन है वोहड्डियों को एक साथ जोड़ता है, तो ऐसे में टेंडन और अन्‍य ऊतकों पर काम किया जा सकता है। इन ऊतकों को हम लंबा कर सकते हैं और थोड़ा सा इंच बढा सकते हैं। हमारे शरीर में लंबाई बढ़ाने का सबसे बड़ा योगदान होता है ह्यूमन ग्रोथ हॉरमोन का यानी की एचजीएच। एचजीएच पिटूइटेरी ग्लैंलड से निकलता है जिससे हमारी हाइट बढ़ती है। सही प्रोटीन और न्यूटिशन न मिलने के कारण शरीर का विकास होना बंद या कम हो जाता है। और अगर आप शरीर का सही विकास करना चाहते हैं तो खान-पान का पूरा ध्यान रखना शुरु कर दें। इसके अलावाअगर लंबाई बढानी है तो एक्‍सरसाइज करें और हेल्‍दी डाइट अपनाएं।

इसके अलावा कई लोग अपनी लंबाई बढाने के लिये बाजार में मिलने वाली दवाई और पाउडर का भी सेवन करने लगते हैं जिससे कुछ साइड इफेक्‍ट्स भी होते हैं।  ये लम्बाई तो नहीं बढ़ाती, लेकिन आपको आलसी और निष्क्रिय जरूर बना देती हैं। इस प्रकार की दवाओं को कतई न लें।

हर तरह के फूड ग्रुप वाले आहार लें जैसे, प्रोटीन, कैल्‍शियम, स्‍वास्‍थ्‍य वसा और आयरन। इसके अलावा खूब सारी सब्‍जियां और फल का भी सेवन करें।

हाइट बढाने के लिये एंटीबायोटिक्स का सेवन ज्यादा नहीं करना चाहिये, नहीं तो इसके अधिक प्रयोग से हाइट रुक भी सकती है।

शरीर में ग्रोथ हार्मोन को बढाने के लिये आपको दिन में 3 बार के अलावा 6 बार छोटे छोटे मील खाने चाहिये। हाइट बढाने के लिये एंटीबायोटिक्‍स का सेवन ज्‍यादा नहीं करना चाहिये, नहीं तो इसके अधिक प्रयोग से हाइट रुक भी सकती है

ठीक से सोएं क्‍योंकि सोते समय आपकी मासपेशियां और शरीर फैलता है, तो ठीक प्रकार से नींद लें। अपनी गर्दन और सिर को हमेशा सीधा और तान कर रखे। यदि आप हमेशा अपने सिर को झुका कर रखेगें तो आपका स्‍पाइनल कार्ड दब जाएगा और पूरा शरीर छोटा लगेगा।

अपने वजन को नियंत्रित करें, क्‍यों‍कि अगर आपका वजन कम है तो आपकी हाइट ठीक से नहीं बढेगी।

खूब पानी और दूध पियें।

नशे से दूर रहें :- शराब पीना और धूम्रपान गंभीर स्वास्थ्य समस्याओं का कारण बनते हैं। धूम्रपान या अल्कोहल लेने वाले व्यक्ति के विकास को और लम्बाई पर बुरा प्रभाव पड़ता है। इसलिए किसी भी प्रकार के नशे से दूर रहें।

फास्ट फूड या जंक फूड का सेवन न करें, खटाई न खाएं, ज्यादा मिर्च-मसाले से परहेज करें।

आजकल कोल्ड ड्रिंक्स पीना फैशन बन गया है, लेकिन यह सेहत के लिहाज से सही नहीं है। बर्गर, नूडल्स, पिज्जा खाने से भी हाइट नहीं बढ़ती। दूध, दही, पनीर, मक्खन, दालें खाने से हाइट बढ़ती है। प्रोटीन दूध, दही, अंडे में खूब होता है। विटामिन, मिनरल्स के लिए फल खाओ, जूस पियो और हरी सब्जी, दालें खाना मत भूलना।

हाइट बढाने के लिये रोजाना व्‍यायाम करें। जैसे पादपश्चिमोत्तानासन, ताड़ आसन, भुजंग आसन ‘पुल्ल-अप्स’करने से एवं हाथ से शरीर झुलाने से ऊँचाई बढ़ती है।

पादपश्चिमोत्तानासन : जमीन पर आसन बिछाकर दोनों पैर सीधे करके बैठ जाओ | फिर दोनों हाथों से पैरों के अगूँठे पकड़कर झुकते हुए सिर को दोनों घुटनों से मिलाने का प्रयास करो | घुटने जमीन पर सीधे रहें | प्रारंभ में घुटने जमीन पर न टिकें तो कोई हर्ज नहीं | सतत अभ्यास से यह आसन सिद्ध हो जायेगा | इस आसन से शरीर का कद लम्बा होता है | यदि शरीर में मोटापन है तो वह दूर होता है और यदि दुबलापन है तो वह दूर होकर शरीर सुडौल, तन्दुरुस्त अवस्था में आ जाता है | ब्रह्मचर्य पालनेवालों के लिए यह आसन भगवान शिव का प्रसाद है | इसका प्रचार पहले शिवजी ने और बाद में जोगी गोरखनाथ ने किया था |

ताड़ आसन :- ताड़ आसन  से आप अपने शरीर की लम्बाई अच्छी खासी बड़ा सकते हैं| छोटे बच्चे और टीनेजर इस ताड़ आसन को रोज़ करे तो उनकी लम्बाई 6 फुट तक आसानी से हो सकती है| ताड़ आसन को करने के लिए आपको सबसे पहले अपने दोनों हाथ ऊपर की और उठाने हैं और हाथ उठाते समय आपको सांस अन्दर लेनी हैं ऐसा करने के साथ साथ आपको अपने पैर के पंजो में भी कुछ सेकंड के लिए खड़ा होना है और इसके बाद आपको सांस बाहर छोड़ते छोड़ते हाथ नीचे करने है और दोनों पैर के पंजो को वापस सामान्य अवस्था में लाना है! इस प्रक्रिया को आप 10 -15 बार करे और इसे बढ़ातें चले जाएँ|

भुजंग आसन : – इससे आपके सीने और पेट की मांसपेशियों में खिंचाव होगा। इसको रोजाना करने से लंबाई बढाई जा सकती है। इसको करते समय जितना पीछे हो सके उतना हों। इसी पोजीशन में करीब 20 सेकेंड तक रहें और कम से कम 3-4 बार करें।

1. लटकना- जमीन से 7 फुट पर एक छंड गाडे़ और उस पर जितनी देर हो सके उतनी देर तक रोज लटकें।

इससे रीढ़ की हड्डी लचीली बनेगी और आपकी लंबाई बढे़गी।

2. प्रतिदिन 10 से 20 मिनट रस्सी अवश्य ही कूदें इससे भी लम्बाई बढ़ती है ।

3. अपने हाथ तथा पैरों के बल झूलने तथा दौड़ने जैसी कसरत करे।

4. लम्बाई बढ़ाने के लिए प्रातःकाल दौड़ लगायें, नित्य सूर्य नमस्कार करें,किसी चीज़ से लटक कर पुल अप्स करें वा ताड़ासन करें ।

5. कद लम्बा करने के लिए अंगूठों को खीचिए ताकि मांसपेशियों में खिंचाब बढे़ इससे शरीर में रक्त का दौरा भी बढ़ता है ।

6. 16 से 18 वर्ष की आयु के बाद ज्यादातर बच्चों के शरीर में कार्टिलेज फैलने के बजाय जमा होने लगता है जिससे हड्डियों का विकास रुक जाता है। ऐसे में कम उम्र से ही अगर बच्चों को स्ट्रेचिंग करने अभ्यास कराएं तो बहुत लाभ मिलता है । स्ट्रेचिंग से रीढ़ की हड्डी को बल व मांसपेशियों को विस्तार मिलता है। इसके लिए बच्चे को सीधा दीवार की ओर मुंह करके खड़ा करें और उसके कद को मार्क करें। अब बच्चे को हाथ ऊपर करके खुद को ऊपर की ओर जितना हो सके खींचने को कहें। शरीर का सारा भार सिर्फ पैर के अंगूठों पर ही होना चाहिए। फिर उसकी हाथ के छोर को भी मार्क करें। बच्चे से रोजाना यह स्ट्रेचिंग करवाएं और साथ-साथ उसकी हाइट व स्ट्रेचिंग की क्षमता को भी चेक करते रहें।

7. बच्चों को कंप्यूटर पर गेम खेलने के बजाय बाहर बास्केटबॉल, बैडमिंटन, टेनिस, दौड़, स्विमिंग और साइकिलिंग जैसे खेल खेलने के प्रोत्साहित करें। इससे उनकी मांसपेशियां भी प्राकृतिक तरीके से मजबूत होती हैं और लंबाई बढ़ती है।

8. कैल्शियम शरीर के लिए एक आवश्यक खनिज है। यह हड्डियों को मजबूत बनाता है। कैल्शियम हमें दूध, चीज़, दही, चूने आदि में मिलता है। ऊंचा लंबा कद पाने के लिए कैल्शियम बेहद जरूरी है। मिनरल-खनिज हड्डी के ऊतकों का निर्माण करता है। ये हड्डी के विकास और शरीर में रक्त के प्रवाह में सुधार करते हैं।

9. खनिज से भरपूर तत्वों का इस्तेमाल करें। यह पालक, हरी बीन्स, फलियां, ब्रोकोली, गोभी, कद्दू, गाजर, दाल, मूंगफली, केले, अंगूर और आड़ू में पाया जाता है। लंबाई बढ़ाने के लिए जिस विटामिन की सबसे ज्यादा जरूरत होती है वह विटामिन डी। यह दाल, टोफू,  मशरूम, गाय के दूध और दूध से बने पदार्थो से, सूर्य की किरणों से और बादाम आदि में पाया जाता है।

10. लम्बाई और स्मरण शक्ति बढ़ाने के लिए गेहूँ के दाने के बराबर मात्रा में चूना रोज दही, दाल या सब्जी में मिलाकर खाना चाहिए या पानी में मिलाके पीना चाहिए । इससे लम्बाई और स्मरण शक्ति दोनों का ही विकास होता है। शरीर में चुस्ती फुर्ती बनी रहती है । लेकिन जिन लोगो को पथरी की समस्या हो उन्हें इसका सेवन नहीं करना चाहिए ।

इसके साथ कुछ आयुर्वेदिक उपचार जो बहुत सहायक हैं। 

*  कद बढ़ाने के लिये सूखी नागौरी, अश्वगंधा की जड़ को कूटकर बारीक कर चूर्ण बना लें। बराबर मात्रा में खांड मिलाकर किसी टाईट ढक्कन वाली कांच की शीशी में रखें। इसे रात सोते समय रोज दो चम्मच गाय के दूध के साथ लें। इससे दुबले व्यक्ति भी मोटे हो जायेंगे। कम कद वाले लोग लंम्बे हो सकते हैं। इससे नया नाखून भी बनना शुरू होता है। इस चूर्ण का सेवन करने से कमजोर व्यक्ति अपने अंदर स्फूर्ति महसूस करने लगता है। इस चूर्ण को लगातार 40 दिन तक लेते रहें। इस चूर्ण को शीतकाल में लेने से अधिक लाभ मिलता है।

* 1 से 2 ग्राम अश्वगंधा चूर्ण, 1 से 2 ग्राम काले तिल, 3 से 5 खजूर को 5 से 20 ग्राम गाय के घी में एक महीने तक खाने से लाभ होता है।
इस चूर्ण का सेवन करते समय खटाई, तली चीजें न खायें और जिन्हें आंव की शिकायत हो,तो अश्वगंधा न लें।

* लम्बाई बढ़ाने हेतु नित्य 2 काली मिर्च के टुकड़े 20 ग्राम मक्खन में मिलाकर उसे निगल जायें। देशी गाय का दूध कद बढ़ाने में विशेष रूप से सहायक है।

* इसके साथ ही अपने डाइट चार्ट में ज्यादा से ज्यादा फल और मेवे शामिल करें। कद बढ़ने लगेगा।अखरोट की गिरी चालीस ग्राम की मात्रा में नियमित लेने से जल्द ही हाईट बढ़ जाती है ।

Source - ALLAYURVEDIC.ORG

loading...
Loading...

2 Comments on बच्चो और बड़ो के कद लम्बा करने के घरेलु उपचार।

    • 1. लटकना- जमीन से 7 फुट पर एक छंड गाडे़ और उस पर जितनी देर हो सके उतनी देर तक रोज लटकें।

      इससे रीढ़ की हड्डी लचीली बनेगी और आपकी लंबाई बढे़गी।

      2. प्रतिदिन 10 से 20 मिनट रस्सी अवश्य ही कूदें इससे भी लम्बाई बढ़ती है ।

      3. अपने हाथ तथा पैरों के बल झूलने तथा दौड़ने जैसी कसरत करे।

      4. लम्बाई बढ़ाने के लिए प्रातःकाल दौड़ लगायें, नित्य सूर्य नमस्कार करें,किसी चीज़ से लटक कर पुल अप्स करें वा ताड़ासन करें ।

      5. कद लम्बा करने के लिए अंगूठों को खीचिए ताकि मांसपेशियों में खिंचाब बढे़ इससे शरीर में रक्त का दौरा भी बढ़ता है ।

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*